शेयर बाजार में पैसे कैसे लगाएं? Beginners guide

शेयर बाजार में पैसे कैसे लगाएं? Beginners guide

A man explaining share market


अगर अच्छी जानकारी और अनुशासन के साथ शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो शेयर बाजार आपको एक्स्ट्रा कमाई करके देगा और आपको आर्थिक रूप से सक्षम (financial independent) बना देगा।

यह लेख उन लोगों की है जिनको शेयर बाजार में निवेश करने के बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं है या बस थोड़ी सी जानकारी है। Beginners के लिए शेयर बाजार की बेसिक जानकारी के साथ शेयर बाजार में निवेश के तरीकों की जानकारी होना जरूरी है।

{tocify} $title={मुख्य बिंदु}

शेयर बाजार में निवेश के तरीके

शेयर बाजार में निवेश करने से पहले हमें निवेश (investment) और ट्रेडिंग में क्या अंतर है यह जान लेना चाहिए क्योंकि कुछ लोग शेयर मार्केट में आते हैं निवेश करने और शुरुआत में ही ट्रेडिंग करके अपना नुकसान कर बैठते हैं।

अगर शेयर बाजार में निवेश करना है तो उसके लिए निम्न तरीके हो सकते हैं:

  • म्यूचुअल फंड
  • ईटीएफ (exchange traded fund)
  • स्टॉक में डायरेक्ट निवेश

म्यूचुअल फंड (Mutual fund)

म्यूचुअल फंड स्टॉक मार्केट में पैसे इन्वेस्ट करने का एक तरीका है। इसमें कुछ फाइनेशियल एक्सपर्ट एक  AMC (asset management compony) के माध्यम से स्टॉक मार्केट में निवेश और विनिवेश को नियंत्रित करते हैं।

म्युचुअल फंड, स्टॉक्स का एक पोर्टफोलियो होता है जिसमें स्टॉक्स का चुनाव फाइनेंशियल एक्सपर्ट की एक टीम द्वारा किया जाता है। इन सब स्टॉक्स का एक कॉमन फंड बना कर उस कॉमन फंड में इन्वेस्ट किया जाता है। 

म्युचुअल फंड में फंड का एक NAV (Net Asset Value) निर्धारित किया जाता है जो फंड के पोर्टफोलियो में जो शेयर होते है उनके एवरेज उतार चढ़ाव के हिसाब से कम या ज्यादा होता है।

इसमें आप और हम जैसे लोग जो पैसे म्युचुअल फंड में SIP या lump sum निवेश के द्वारा म्युचुअल फंड में डालते हैं उसको ये फंड मैनेजर पोर्टफोलियो में चुने हुए शेयरों में निवेश कर देते हैं।

म्युचुअल फंड में हम दो तरह से निवेश कर सकते हैं, 

  • एक ही बार में निवेश या lump sum और 
  • SIP के माध्यम से निवेश

Lump Sum investment

अगर किसी के पास इकट्ठे पैसे होते हैं तो वह उन पैसों को एक ही बार में म्युचुअल फंड में निवेश कर सकता है। इसको Lump Sum investment कहते हैं।

SIP 

SIP का फुल फॉर्म होता है systemetic investment plan. 

SIP में हर महीने एक फिक्स अमाउट को म्युचुअल फंड में निवेश करते हैं। आप जितने पैसे हर महीने बचाने में सक्षम हैं, उतने पैसों को अपने बैंक एकाउंट से किस्त की तरह हर महीने कटा कर म्युचुअल फंड खरीद सकते हैं। SIP द्वारा निवेश के फायदे भी बहुत हैं। आप छोटा सा अमाउंट भी कटा सकते हैं जो लॉन्ग टर्म में कंपाउंड होकर एक बड़ी राशी में बदल सकता है।

ETF (EXCHANGE TRADED FUND)

ETF भी म्युचुअल फंड की तरह फंड होते हैं जो फंड मैनेजरों द्वारा मैनेज किए जाते हैं बस उसमे फर्क इतना है कि इसको हम एक नॉर्मल शेयर की तरह ही खरीद और बेच सकते हैं अपने दाम और अपने समय पर। इसमें कोई लॉकिंग पीरियड भी नही होता है।

स्टॉक में डायरेक्ट निवेश

शेयर मार्केट में रजिस्टर्ड कंपनियों के शेयर को डायरेक्ट खरीद कर भी हम निवेश कर सकते हैं। लेकिन इस तरह के निवेश के लिए शेयर मार्केट की जानकारी जरूरी होती है नही तो नुकसान होने की संभावना बहुत ज्यादा रहती है।

शेयर बाजार में निवेश करने के लिए क्या क्या आवश्यकता होती है?

शेयर बाजार में निवेश करने के लिए निम्नलिखित आवश्यकताएं हो सकती हैं -:

  • बैंक एकाउंट
  • डिमैट अकाउंट
  • ट्रेडिंग अकाउंट
  • ट्रेडिंग सॉफ्टवेयर या मोबाइल ऐप


डिमैट अकाउंट

शेयर बाजार में निवेश के लिए आपको एक डिमैट अकाउंट खोलने की आवश्यकता होती है। आपके द्वारा खरीदे गए शेयर या प्रतिभूति इसी अकाउंट में जमा होती है। यह ठीक वैसे ही कार्य करता है जैसे आपका बैंक एकाउंट करता है।

डिमैट अकाउंट खोलने के लिए आपको किसी ब्रोकर को चुनना पड़ता है। यह ब्रोकर आपके डिमैट अकाउंट को maintain karte हैं और उसके लिए आपसे वार्षिक आधार पर maintenance charges भी ले सकते हैं।

ट्रेडिंग अकाउंट

शेयर बाजार में शेयर का सौदा या खरीदने और बेचने के लिए ट्रेडिंग अकाउंट की जरूरत होती है। यह ट्रेडिंग अकाउंट किसी ब्रोकर कंपनी के माध्यम से खोला जाता है। जब आप शेयर को ट्रेडिंग अकाउंट के माध्यम से खरीदकर delevery रखते हैं तो वह शेयर आपके डिमैट अकाउंट में जमा हो जाता है।

शेयर बाजार में निवेश से पहले यह जान लें...

शेयर बाजार में beginners के लिए यहां यह जानना जरूरी है कि शेयर बाजार में शुरुआत में ही लोगों को अच्छा खासा नुकसान हो जाता है, जिससे वो इसकी तरफ द्वारा से नही आते। अगर एक्सपर्ट की माने तो शेयर मार्केट में 90% लोग नुकसान में रहते हैं।

यह आंकड़ा देख कर आपको डरने की जरूरत नही है। बस जरूरत है तो बस सही जानकारी की और प्रैक्टिस करके अपने आपको बेहतर बनाने की।



Shree Gangasagar

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम है सत्येंद्र सिंह founder of ShreeGangasagar.com

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने